7 महीने पहले ही दे दी गुरु नानक जयंती की बधाई, बीजेपी नेताओं का उड़ा मज़ाक़

बीजेपी नेताओं का उड़ा मज़ाक़
बीजेपी नेताओं का उड़ा मज़ाक़

एनपी न्यूज़ डेस्क | Navpravah.com

उत्तर प्रदेश सरकार में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य पार्टी के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह समेत कई नेताओं ने जल्दबाजी में 7 महीने पहले। 14 अप्रैल को ही गुरु नानक जयंती की बधाई दे डाली। जिससे सोशल मीडिया में अपनी हँसी उड़वा ली।

गुरु नानक जयंती गुरु पूर्णिमा को मनाई जाती है। इस साल गुरु नानक जयंती 23 नवंबर को है। अपना मजाक उड़ता देख बीजेपी नेताओं को समझ में आया कि उनसे गलती हो गई है। इस गलती का अहसास होते ही उन लोगों ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया। लेकिन ट्वीट हटाने से पहले ही कई लोग इसके स्क्रीन शॉट्स ले चुके थे।

कल यूपी सरकार के कुछ मंत्रियों और बीजेपी नेताओं ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लोगों को गुरुनानक जयंती की शुभकामनाओं वाले पोस्ट कर दियेप्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने गुरुनानक की एक तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा कि, सिखों के प्रथम धर्मगुरु, दार्शनिक।

सामज सुधारक एवं संगीतज्ञ गुरु नानक देव जी की जयंती पर कोटि-कोटि नमनहालांकि।  बाद में सिद्धार्थ नाथ सिंह ने माफी मांगने की सोचा और उन्होंने इनसाइक्लोपीडिया का स्क्रीन शॉट लेकर ट्वीट किया कि, इसकी वजह से सारा कंफ्यूजन हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here