दिल्ली में एक स्कूल बना ‘जालिम’, 5 घंटे भूखी प्यासी बच्चियों को किया कैद

पुरानी दिल्ली के हौजखास इलाके में मौजूद राबिया स्कूल में फीस नहीं जमा करने की वजह से बच्चियां को स्कूल के बेसमेंट में लगभग पांच घंटे तक बंद कर दिया गया,

एनपी न्यूज़ डेस्क | Navpravah.com

पुरानी दिल्ली के हौजखास इलाके में मौजूद राबिया स्कूल में फीस नहीं जमा करने की वजह से बच्चियां को स्कूल के बेसमेंट में लगभग पांच घंटे तक बंद कर दिया गया, ये बच्चियां 40 डिग्री तापमान में भूखी – प्यासी रही जब तक  अभिभावकों उन्हें छुड़ाने नही आये।

अभिभावकों को देखते ही बच्चियां चीख – चीख कर रोने लगीं, पुलिस की ओर से दर्ज की गई एफआईआर के तहत बच्चों को अभिभावक सुबह सात बजे स्कूल में छोड़ कर आए थे, अभिभावकों के जाने बे बाद इन बच्चों को दोपहर छुट्टी के समय लगभग 12.30 बजे तक स्कूल के बेसमेंट में बंद कर के रखा गया।

अभिभावक जब स्कूल पहुंचे और बच्चियां क्लास में नहीं मिले तो उन्होंने बच्चों के बारे में पूछा, स्कूल के स्टाफ ने बताया कि बच्चे बेसमेंट में हैं, अभिभावक नीचे गए तो देखा की वहां दरवाजे में बाहर से कुंडी लगी हुई थी, उन्होंने कुंडी खोल कर बच्चों को निकाला।

परिजनों की ओर से शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने स्कूल के खिलाफ जूवेनाइल जस्टिस ऐक्ट की धारा 75 के तहत मामला दर्ज कर लिया है, इस मामले में स्कूल प्रशासन से पूछताछ की जा रही है और तथ्य जुटाने के लिए अभिभावकों से भी जानकारी ली जा रही है।

राबिया स्कूल की घटना को दिल्ली सरकार ने बेहद गंभीरता से लिया है, इस मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शिक्षा विभाग के सचिव व शिक्षा निदेशक को सभी तथ्यों के साथ दोपहर 12.30 बजे बुलाया है, ये जानकारी दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने एक ट्विट के जरिए दी है, दिल्ली सरकार इस मामले में कड़ी कार्रवाई के बारे में विचार कर रही है, इस मामले में शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने जांच शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here