कांग्रेस के हुए शॉटगन, कहा- स्थापना दिवस पर पार्टी छोड़ने से हुआ भारी मन

एनपी न्यूज़ डेस्क | Navpravah.com
नई दिल्ली. बॉलीवुड एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा शनिवार को औपचारिक रूप से कांग्रेस में शामिल हो गए। वे दो बार लोकसभा सदस्य रहे। पार्टी में शामिल होने के 3 घंटे बाद ही कांग्रेस ने शत्रुघ्न को पटना साहिब से उम्मीदवार बना दिया। भाजपा ने इस सीट से रविशंकर प्रसाद को टिकट दिया है। शत्रुघ्न ने कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल और रणदीप सुरजेवाला की मौजूदगी में सदस्यता ग्रहण की।
रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ”कांग्रेस एक दल के साथ विचारधारा भी है। शत्रुघ्न सिन्हा का आध्यात्मिक और बौद्धिक तौर पर महात्मा गांधी के विचारों से लगाव रहा है।” शक्ति सिंह गोहिल ने कहा, ”शत्रुघ्न अच्छे नेता हैं। बॉलीवुड में सुपरस्टार रहे। उनका कांग्रेस परिवार में उनका स्वागत करते हैं।”

‘भारी मन से भाजपा छोड़ रहा हूं’
शत्रुघ्न ने ट्वीट किया- “बहुत भारी मन से मैंने अपनी पुरानी पार्टी (भाजपा) छोड़ने का फैसला किया है। मेरे भाजपा छोड़ने की वजहें सब जानते हैं। लोकशाही, तानाशाही में बदलती चली गई। अब मैं इन चीजों को छोड़कर आ चुका हूं। उन्हें माफ भी कर चुका हूं। उम्मीद है कि मेरी नई पार्टी लोगों, समाज और देश की सेवा करने का मौका देगी।”
शत्रुघ्न ने बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल को गलती से भाजपा का बता दिया। इस पर उन्होंने कहा कि आज भाजपा का 39वां स्थापना दिवस है, इसलिए ऐसा कह दिया। भाजपा न बोलने की आदत धीरे-धीरे पड़ेगी। भाजपा में नानाजी देशमुख ने मुझे प्रशिक्षण दिया। भाजपा के गुरु (लालकृष्ण आडवाणी) ने मुझे मार्गदर्शन दिया। सुबोधकांत सहाय मुझे पब्लिक लाइफ में लेकर गए। लोग कहते थे कि आप जैसे सेक्युलर आदमी को कांग्रेस में होना चाहिए।”

‘भाजपा वन मैन आर्मी-टू मैन शो’
सिन्हा ने कहा, “मैं लोकशाही को लेकर आगे बढ़ता गया और भाजपा में धीरे-धीरे लोकशाही, तानाशाही में बदल गई। मैंने भाजपा के लिए कहा था कि वन मैन आर्मी और टू मैन शो। पार्टी ने आडवाणीजी को मार्गदर्शक मंडल में डाल दिया। इस मार्गदर्शक मंडल की आज तक कोई बैठक नहीं हुई। भाजपा ने धीरे-धीरे ऊपर से काटना शुरू किया। जसवंत सिंह, अरुण शौरी, मुरली मनोहर जोशी और यशवंत सिन्हा को खत्म किया गया।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here