कंगना रनौत पर प्रियंका चोपड़ा का पलटवार

कंगना रनौत पर प्रियंका चोपड़ा का पलटवार

एनपी न्यूज़ डेस्क | Navpravah.com  कंगना रनौत हाल के कुछ इंटरव्यूज की वजह से सुर्ख़ियों में बनी हुई हैं. पहले बॉलीवुड में ‘नेपोटिज्म’ को लेकर, फिर एक इं...

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के आगमन से पहले बम मिलने से अफरा-तफरी
ईद पर भी नहीं माने पत्थरबाज, CRPF कैंप पर हमला
तीन तलाक़: सुप्रीम कोर्ट आज करेगा फ़ैसला
एनपी न्यूज़ डेस्क | Navpravah.com 
कंगना रनौत हाल के कुछ इंटरव्यूज की वजह से सुर्ख़ियों में बनी हुई हैं. पहले बॉलीवुड में ‘नेपोटिज्म’ को लेकर, फिर एक इंटरव्यू के दौरान ऋतिक रोशन के लिए बेबाक बयान दे रही हैं. कुछ लोगों ने कंगना की इस बेबाक जुबान को सराहा, तो किसी ने पागल कहा, कई लोगों ने कहा कि कंगना वुमेन कार्ड खेल रही हैं.
हाल ही में हुए एक इंटरव्यू में कंगना कहती हैं, ’मैं बहुत ही क्रिएटिव हूं. मैं अलग तरह का मटीरियल बना सकती हूं और उसे फ्रेश टेक बना सकती हूं. मैं डायरेक्ट करना चाहती हूँ और मैं लिखना भी चाहती  हूं. इससे मुझे पता चलेगा कि मैं कैसे ग्रो कर रही हूं.  अगर यह काम नहीं भी करुँगी, तो भी इससे ये पता चल सकेगा कि मैं कितनी दूर तक जा सकती हूं या मेरे अंदर कितनी क्षमता है.’
कंगना आगे कहती हैं कि सेल्फसफ़िशिएन्ट होना कोई इतना मुश्किल काम नहीं है. मेरे पास ऐसा इंफ्रास्ट्रक्चर है, जो खुद का इको सिस्टम बनाएगा. वहीं कंगना के कॉमेंट को लेकर जब प्रियंका से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह अपने काम से बेहद खुश हैं. उन्होंने कहा कि मैं प्रोड्यूसर के तौर पर काम कर रही हूं बाकि कामों के लिए मैं एक्सपर्ट्स के साथ ही काम करना चाहूंगी.’
प्रियंका आगे कहती हैं, ‘मैं ऐसा नहीं सोचती हूँ, कि सब कुछ मुझे करना है, मेरा नाम सब जगह होना चाहिए. फिल्म मेकिंग कोई रॉकेट साइंस नहीं है. यह वह है, जिसमें कुछ ग्रेट पीपल साथ आते हैं और एक टीम की तरह काम करते हैं. वहीं प्रियंका ने कंगना की एक बात पर सहमती जताई. उन्होंने कहा कि हां कुछ डायरेक्टर्स का अपना ही इगो होता है. प्रियंका ने कहा, ‘सिर्फ डायरेक्टर्स के साथ ही नहीं, एंटरटेंनमेंट इंडस्ट्री के बाकी और लोगों के साथ भी ऐसा है. मैं किसी को सजेशन दे सकती हूं। अगर उन्हें ये सही लगता है तो उसे वह ले सकते हैं. अगर उन्हें ठीक नहीं लगता है तो कोई नहीं, मैं टॉक्सिक एन्वायरमेंट में काम नहीं कर सकती.‘



COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0