शहज़ादे सलीम की ‘अनारकली’ को अजर-अमर बनायेगा ‘मैडम तुसाद’

शहज़ादे सलीम की ‘अनारकली’ को अजर-अमर बनायेगा ‘मैडम तुसाद’

शिखा पाण्डेय । Navpravah. com ‘मुगल-ए- आज़म’ की ‘अनारकली’ मधुबाला की अद्भुत झलक व मुस्कान आज भी आपके मस्तिष्क में आती होगी, तो ...

वेंकैया नायडू बने देश के 13वें उपराष्ट्रपति
कंगना रनौत पर प्रियंका चोपड़ा का पलटवार
फ़िर करेंगे सर्जिकल स्ट्राइक !
शिखा पाण्डेय । Navpravah. com
‘मुगल-ए- आज़म’ की ‘अनारकली’ मधुबाला की अद्भुत झलक व मुस्कान आज भी आपके मस्तिष्क में आती होगी, तो मन रोमांचित हो उठता होगा। अब वही हसीन ‘अनारकली’ अपने उस रूप के साथ अजर-अमर होने वाली है। चौंकिए मत! उन्हें वह जिवंत अमरत्त्व प्रदान करने वाला है मैडम तुसाद म्यूजियम। जी हां! दिल्ली स्थित मैडम तुसाद, जिसके इस साल के अंत तक खुलने की संभावना है, उसी म्यूजियम में मिलेगी आपको शहज़ादे सलीम की ‘अनारकली’।
मैडम तुसाद में लगनेवाली अभिनेत्री मधुबाला की मोम की अनुकृति क्लासिक फिल्म ‘मुगले आजम’ में उनके प्रसिद्ध किरदार ‘अनारकली’ पर आधारित होगी। आपको याद दिला दें कि मधुबाला हिंदी सिनेमा के सुनहरे दौर की एक प्रमुख अभिनेत्री थीं और वे फिल्म उद्योग में बेहद सम्मानित शख्सियतों में से एक थीं। वर्ष 1952 में चर्चित अमेरिकी पत्र‍िका ‘थियेटर आर्ट्स’ में छपी एक तस्वीर से मधुबाला की खूबसूरती को वैश्विक मान्यता मिली थी और मधुबाला की मुस्कराहट की दुनिया दीवानी हो गई थी।
उल्लेखनीय है कि दिल्ली की प्रसिद्ध रीगल बिल्डिंग में स्थित इस संग्रहालय में बॉलीवुड के जिन सितारों की मोम की अनुकृति होगी, उनमें अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, गायिका आशा भोंसले एवं श्रेया घोषाल भी शामिल हैं। मर्लिन एंटरटेनमेंट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के महाप्रबंधक एवं निदेशक अंशुल जैन ने बताया, “मैडम तुसाद में मुधबाला की अनुकृति होने से हमें खुशी है। वे अब भी देश के लाखों लोगों के दिलों पर राज करती हैं।” अंशुल जैन ने कहा, “हमें यकीन है कि उनकी दिलकश खूबसूरती प्रशंसकों को उनके साथ सेल्फी लेने और खास लम्हा बिताने के लिये आकर्षित करेगी और उन्हें सिनेमा के उस सुनहरे दौर में ले जायेगी।”



COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0