मोदी जी, ‘बेटी बचाओ’ नहीं, बेटियों को दरिंदों से बचाओ- दिव्यांका त्रिपाठी

मोदी जी, ‘बेटी बचाओ’ नहीं, बेटियों को दरिंदों से बचाओ- दिव्यांका त्रिपाठी

शिखा पाण्डेय । Navpravah.com देश का 71वाँ स्वतंत्रता दिवस, जब देश जश्न-ए-आज़ादी में डूबा था, एक 12 साल की मासूम बच्ची किसी हैवान की हैवानियत से खुद को...

अब दुश्मनों की ख़ैर नहीं, भारतीय सेना के ये जवान छुड़ा देंगे छक्के
पीएम मोदी ने ब्रिक्स में गर्माया आतंकवाद का मुद्दा
अब गूगल भी करेगा आपके डिप्रेशन का इलाज!

शिखा पाण्डेय । Navpravah.com

देश का 71वाँ स्वतंत्रता दिवस, जब देश जश्न-ए-आज़ादी में डूबा था, एक 12 साल की मासूम बच्ची किसी हैवान की हैवानियत से खुद को बचाने के लिए चीख चिल्ला रही थी, मगर कोई उसकी चीख सुनने वाला नहीं था। जी हाँ। बात इस स्वतंत्रता दिवस पर चंडीगढ़ में हुई उस दरिंदगी की ही है, जिसने देश को एक बार फिर शर्मसार कर दिया है। टीवी अभिनेत्री दिव्यांका त्रिपाठी ने इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक के बाद एक कई ट्वीट कर समाज के समक्ष कई सवाल खड़े कर दिए हैं।

दिव्‍यांका ने प्रधानमंत्री को ट्वीट कर कहा कि देश में ‘बेटी बचाओ’ की जगह ‘बेटियों को बचाओ’ नारे को अमल में लाने की ज़रूरत है। दिव्यांका ने प्रधानमंत्री से अपने ‘स्‍वच्‍छ भारत अभियान’ के तहत देश से ‘बलात्‍कारी रूपी कचरे’ को जल्द से जल्द हटाने की मांग की है। दिव्‍यांका ने लिखा,”क्या बेटी बचाओ? अब बेटी को बचाओ। बेटे की चाहत नहीं,पर अब डरती हूँ बेटी पैदा करने से। क्या कहूँगी, क्यूँ उसे स्वर्ग से नर्क की दहशत में ढकेला!”

इस घटना पर गुस्‍सा जाहिर करते हुए ‘ ये हैं मोहब्बतें ‘ की लीड एक्ट्रेस ने लिखा, “महिलाओं को हर पार्टी को वोट देना बंद कर देना चाहिये, क्‍योंकि वह उन्‍हें देश के लिए इतना कम जरूरी समझते हैं। हम ‘बिना महिलाओं के’ या ‘बलात्‍कारियों के स्‍वर्ग’ में रहते हैं!” पीएम मोदी को संबोधित करते हुए उन्होंने लिखा,”क्‍यों हम ऐसे जघन्‍य अपराधों के लिए जघन्‍य सजा नहीं दे सकते? एक और बलात्‍कार! हम कौन सी स्‍वतंत्रता की बात कर रहे हैं?”

दिव्‍यांका ने फिर लिखा, “प्रिय @narendramodi जी, #स्वच्छताअभियान के अंतर्गत इस रेपिस्ट नामक कचरे से निजात दिलाइये। हम घूरे में जी सकते हैं, इन भेड़ियों के डर के साथ नहीं।” उन्‍होंने आगे लिखा,”@narendramodi सर, ऐसी सज़ा गढ़िये इन महिलाभक्षियों के लिए कि औरतों को बुरी नज़र से देखने पर भी इन की रूह कांपे! आप पर भरोसा है, कुछ कीजिये।”

उल्लेखनीय है कि चंडीगढ़ में एक 8वीं की छात्रा के साथ रेप की घटना सामने आई है। यह बच्‍ची स्‍वतंत्रता दिवस के दिन कार्यक्रम खत्‍म होने के बाद शॉर्टकट रास्‍ते से अपने घर जा रही थी और इसी बीच एक शख्‍स ने चाकू के बल पर इस घिनौनी हरकत का अंजाम दिया।



COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0